Spread the love

शुक्र का वृष राशि में गोचर (29 जून 2017)

वैदिक ज्योतिष के अनुसार शुक्र ग्रह वृषभ एवं तुला राशि का स्वामी है। यह मनुष्य जीवन के दो अहम पहलुओं को दर्शाता है जिनमें एक प्रेम है, तो दूसरा धन है। शुक्र ग्रह भौतिक सुख-सुविधा और विलासिता का भी कारक होता है। इसके अलावा शुक्र का मनुष्य की भावनाओं पर भी नियंत्रण होता है। शुक्र कला, सौंदर्यता, प्रेम, रोमांस, सहजता, मनोरंजन एवं धन का कारक माना जाता है।

ज 29 जून 2017 को शाम 07:40 बजे शुक्र वृष राशि में गोचर प्रवेश हो गए और 26 जुलाई 2017 को शाम 05:20 बजे तक इसी राशि में विराजमान रहेंगे । शुक्र के इस गोचर का प्रभाव सभी 12 राशियों पर इस तरह से पड़ेंगे ।

मेष – शुक्र आपकी राशि से दूसरे भाव में गोचर करेगा। इस स्थिति में आप एक प्रभावी वक्ता के रूप में उभर सकते हैं। आपको स्वादिष्ट व्यंजनों का स्वाद लेने का अवसर मिलेगा। घर में किसी मांगलिक समारोह के आयोजन की संभावना है। परिवार में कोई नया सदस्य जुड़ सकता है। गोचर के दौरान आप धन संचय करने में सफल हो सकते हैं। व्यापार में पार्टनरशिप के द्वारा आपको लाभ मिलने की प्रबल संभावना दिखाई दे रही है। जीवन साथी की मदद से भी आपको किसी प्रकार का लाभ मिल सकता है।

वृष – शुक्र ग्रह आपकी ही राशि में गोचर करेंगे जो प्रथम भाव में स्थित होंगे। इसके प्रभाव से आपको निजी जीवन में सुधार देखने को मिल सकता है। आपके अच्छे स्वभाव के कारण लोग आपकी तारीफ़ करेंगे। स्वास्थ्य की दृष्टि से भी आपको लाभ मिल सकता है। वैवाहिक जीवन में प्रेम बढ़ेगा। हालाँकि छोटी-मोटी तक़रार भी संभव है। मानसिक रूप से आप संतुष्ट रहेंगे और एक बेहतर जीवन शैली का आनंद लेंगे।

मिथुन – शुक्र आपकी राशि से बारहवे भाव में प्रवेश करेगा। इस दौरान आपके खर्चों में वृद्धि देखने को मिल सकती है। क़ीमती वस्तु एवं सुविधाओं पर आपका धन अधिक ख़र्च होने की संभावना है। खाली समय का आनंद लेने के लिए आप विदेश यात्रा पर भी जा सकते हैं। गोचर के दौरान वासनात्मक क्रियाओं में आपका ध्यान अधिक रहेगा। ऐसे में आपको संयमित रहने की सलाह दी जाती है। जीवन साथी की सेहत में गिरावट देखने को मिल सकती है।

कर्क – शुक्र आपकी राशि से ग्यारहवे भाव में स्थित होगा। इस परिस्थिति में आपकी आय में वृद्धि देखने को मिल सकती है। किसी महिला के द्वारा आपको मदद मिलेगी। प्रेम संबंध भी मधुर रहेंगे। आप अपने प्रिय साथी के साथ समय का आनंद ले सकेंगे। लंबे समय से रुकी हुई आपकी कोई इच्छा पूरी हो सकती है। कार्य में सफलता मिलनी संभव है और आपकी इस कामयाबी में सीनियर्स का भरपूर सहयोग रह सकता है।

सिंह – शुक्र आपकी राशि से दसवे भाव में गोचर करेगा। इस अवधि में कार्य क्षेत्र से आपको शुभ समाचार मिलने के संकेत हैं। आप अपना कार्य पूरी ईमानदारी के साथ करेंगे। महिलाओं का समर्थन आपको मिल सकता है। वहीं घर के वातावरण में सुख-शांति देखने को मिलेगी। अपने शौक़ को आप अपना पेशा भी बना सकते हैं। किसी वजह से जीवन साथी से दूर जाना पड़ सकता है।

कन्या – शुक्र आपकी राशि से नौंवे भाव में गोचर करेगा। इसके फलस्वरूप आप किसी लंबी दूरी की यात्रा पर जा सकते हैं और यह यात्रा आपके लिए लाभकारी सिद्ध होगी। समाज में आपकी जान-पहचान का दायरा और मान-सम्मान बढ़ेगा। भविष्यफल के अनुसार, धार्मिक कार्यों में आपकी सक्रियता बढ़ सकती है और आर्थिक लाभ मिलने की प्रबल संभावना भी दिखाई दे रही है। पिता जी इस दौरान सहज महसूस करेंगे। प्रेम संबंध के लिए समय अनुकूल है परंतु किसी प्रकार की ग़लतफहमी इस रिश्ते में दरार पैदा कर सकती है।

तुला – शुक्र आपकी राशि से आठवे भाव में स्थित होगा। इस अवस्था में आपको अप्रत्याशित लाभ मिलने की संभावना है। छोटी-मोटी स्वास्थ्य संबंधी परेशानी आपको हो सकती है। किसी रहस्य को जानने में आपकी दिलचस्पी होगी। धर्म, आध्यात्म एवं शोध जैसे विषयों में आपकी रुचि बढ़ सकती है। इस अवधि में वासना के प्रति आपका झुकाव अधिक रह सकता है। जीवन साथी का मधुर एवं प्रेम पूर्ण स्वभाव देखने को मिल सकता है। घर में किसी पवित्र समारोह के आयोजन के योग बन रहे हैं।

वृश्चिक – शुक्र आपकी राशि से सातवे भाव में प्रवेश करेगा। यह गोचर आपके लिए उत्तम होने के संकेत दे रहा है। ज्योतिषफल के अनुसार, गोचर के दौरान आपका वैवाहिक जीवन सुखद रह सकता है। जीवन साथी के क़रीब रहने से आपका रिश्ता और भी मजबूत होगा। प्रोफ़ेशनल लाइफ में आपको कोई शुभ समाचार मिल सकता है। आप विदेश में अपना निवास स्थान बना सकते हैं। विवाह समारोह में ख़र्चा संभव है। यदि आप अविवाहित हैं तो गोचर के दौरान आप शादी करने का विचार कर सकते हैं।

धनु – शुक्र आपकी राशि से छठे भाव में गोचर करेगा। इस दौरान आपको प्रेम जीवन में चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। आप विरोधियों पर हावी रहेंगे और प्रतियोगी परीक्षा में आपको सफलता मिलने की संभावना है। आर्थिक स्थिति कमजोर रहने पर आप बैंक अथवा किसी अन्य माध्यम से लोन ले सकते हैं। क़ीमती वस्तुओं को ख़रीदने में आपका ख़र्च बढ़ सकता है। महिलाओं के साथ रिश्ते बेहतर बनाकर चलें। कार्य क्षेत्र में कड़ी मेहनत से आपको अच्छे परिणाम मिलेंगे। ननिहाल पक्ष के लोगों से भेंट होने की संभावना है और उनके साथ आप समय का आनंद भी ले सकते हैं।

मकर – शुक्र आपकी आपकी राशि से चौथे भाव में गोचर करेगा। ऐसे में प्रेम जीवन में आपको आनंद आएगा। हालांकि इस रिश्ते में ग़लतफ़हमी को जगह न दें वरना संबंधों में खटास आ सकती है। गोचर के दौरान आप अपनी जॉब में परिवर्तन कर सकते हैं। आय में भी वृद्धि होने की संभावना है। बच्चे सहज से रूप से समय का आनंद लेंगे। जीवन साथी को किसी प्रकार का लाभ मिल सकता है। गोचर के दौरान आपका सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा।

कुंभ – शुक्र आपकी राशि से चौथे भाव में गोचर करेगा। इस स्थिति में आपके घर का वातावरण सामान्य रह सकता है। गोचर के दौरान आप नया घर अथवा नई कार ख़रीद सकते हैं। घर के सौन्दर्यीकरण में आपका ख़र्च संभव है। किसी कारणवश आप घर से दूर जा सकते हैं। पिता जी की सेहत का ख़्याल रखें। कार्य क्षेत्र में आपके द्वारा अच्छा प्रदर्शन रहेगा। प्रगति व उन्नति के लिए गोचर आपको शुभ संकेत दे रहा है।

मीन – शुक्र आपकी राशि से तीसरे भाव में जाएगा। इस अवस्था में आप अपनी संवाद शैली से लोगों को प्रभावित करेंगे। मीडिया, कला, ग्लैमर, अभिनय से जुड़े लोगों को गोचर का अधिक लाभ मिल सकता है। अपनी मेहनत के बलबूते आप आय प्राप्त करेंगे। माता-पिता जी को स्वास्थ्य संबंधी शिक़ायत हो सकती है, परंतु भाई बहन दुरूस्त रहेंगे। गोचर के दौरान आप अपनी नौकरी में परिवर्तन कर सकते हैं। छोटी यात्रा आपके लिए अनुकूल रहेगी। जीवन साथी को समाज में प्रसिद्धि मिल सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *