पवित्र कार्तिक मास 6 Oct से प्रारंभ

पवित्र कार्तिक मास 6 Oct से प्रारंभ कार्तिक या दामोदर मास सर्वोत्तम, पवित्र और अनंत महिमाओं से पूर्ण मास है । यह विशेषतः भगवान कृष्ण को अति प्रिय है और भक्त-वात्सल्य से परिपूर्ण है । इस मास में कोई भी छोटे से छोटा व्रत भी कई हज़ार गुना अधिक परिणाम देता है । स्कंदपुराण के अनुसार- ‘मासानां कार्तिकः श्रेष्ठो देवानां मधुसूदनः। तीर्थ नारायणाख्यं हि त्रितयं दुर्लभं कलौ।’ अर्थात्‌ भगवान विष्णु एवं विष्णुतीर्थ के सदृश ही कार्तिक मास को श्रेष्ठ और दुर्लभ कहा गया है। ‘न कार्तिसमो मासो न कृतेन समं युगम्‌। न वेदसदृशं शास्त्रं न तीर्थ गंगया समम्‌।’ कहा गया है कि कार्तिक के समान दूसरा कोई मास नहीं, सतयुग…
Read More

आपकी राशि

मेष राशि चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, आ वृष राशि ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो मिथुन का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, ह कर्क-ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो सिंह मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे कन्या ढो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो तुला रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते वृश्चिक तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू धनु ये, यो, भा, भी, भू, धा, फा, ढा, भे मकर भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, गा, गी कुंभ - गू, गे, गो, सा, सी, सू, से,…
Read More