पवित्र कार्तिक मास 6 Oct से प्रारंभ

पवित्र कार्तिक मास 6 Oct से प्रारंभ कार्तिक या दामोदर मास सर्वोत्तम, पवित्र और अनंत महिमाओं से पूर्ण मास है । यह विशेषतः भगवान कृष्ण को अति प्रिय है और भक्त-वात्सल्य से परिपूर्ण है । इस मास में कोई भी छोटे से छोटा व्रत भी कई हज़ार गुना अधिक परिणाम देता है । स्कंदपुराण के अनुसार- ‘मासानां कार्तिकः श्रेष्ठो देवानां मधुसूदनः। तीर्थ नारायणाख्यं हि त्रितयं दुर्लभं कलौ।’ अर्थात्‌ भगवान विष्णु एवं विष्णुतीर्थ के सदृश ही कार्तिक मास को श्रेष्ठ और दुर्लभ कहा गया है। ‘न कार्तिसमो मासो न कृतेन समं युगम्‌। न वेदसदृशं शास्त्रं न तीर्थ गंगया समम्‌।’ कहा गया है कि कार्तिक के समान दूसरा कोई मास नहीं, सतयुग…
Read More

सेल्फीमाहात्म्यम् – Sanskritik Selfie

*"सेल्फीमाहात्म्यम्"* इदानीं सम्प्रवक्ष्यामि सेल्फीमाहात्म्यमुत्तमम् यस्याः ग्रहणमात्रेण प्रसिद्धो मानवो भवेत्।। देवकार्ये पितृकार्ये पूजाकार्ये विशेषतः। राजद्वारे श्मशाने च मन्दिरे प्राणसंकटे।। गंगास्नाने विवाहे च नर्मकार्ये तथैव च। सर्वास्वापत्सु घोरासु तथा भार्यासमागमे।। हिंसन् प्राणिगणं चैव तथा बालनिपीडने। यदुक्तं सर्वथा गोप्यं यच्चोक्तं हि विनिन्दितम्।। सर्वमेव प्रगृह्णन् हि जनोऽमरतां गमिष्यति।। सेल्फीं गृहाण सर्वत्र फेस्बुके चापलोडय। विश्वेऽस्मिन् प्रीतिमासाद्य प्रसिद्धिं त्वं गमिष्यसि।।
Read More